माली समाज सेवा संस्थान भवन निर्माण हेतु विशा भजव संध्या के दिन भामाशाह बने परमार परिवार

माली समाज सेवा संस्थान भवन निर्माण हेतु विशा भजव संध्या के दिन भामाशाह बने परमार परिवार

जय संत शिरोमणी श्री लिखमीदास जी महाराज की जय महात्मा ज्योति राव फुले और सावित्री बाई फुले कि माली समाज सेवा संस्थान गुडा़मालानी के समस्त आजीवन सदस्य एवं भामाशाह का तहे दिल से अभिनंदन करते हुए ।अगली कड़ी में हमारे गुरूवर संत शिरोमणि लिखमीदासजी विशाल भजन संध्या के दिन भामाशाह बनकर समाज भवन में कमरा दान राशि देने के लिए रात्रि जागरण के दिन 101111रूपये देने की घोषणा की गई है हार्दिक अभिनंदन एवं आभार समस्त समाज बंधुओं से नम्र निवेदन है कि हरेक भामाशाह का हौसला अफजाई करते रहिये भारतवर्ष के माली समाज के समाज बन्धुओं और वरिष्ठ महानुभावों से करबद्ध निवेदन है तन मन धन से सहयोग करे तथा अन्य भाग्यशाली भामाशाह को प्रेरित कर समाज विकास कार्य में भागीदारी बढ़ाने की सहायता करे श्रीमान नारणारामजी व कुंभारामजी s oस्वर्गीय श्रीमान गोवर्धनरामजी परमार पुत्र पोकररामजी दिनेशकुमारजी उडासर गुडामालानी रुपये101111आपने अपने तन मन धन से सहयोग किया है और भविष्य में भी ऐसे ही भामाशाह बनकर कृपा करावे तथा भामाशाह का अभिनंदन हार्दिक स्वागत एवं शुभकामनाएं देते रहे माली समाज सेवा संस्थान गुड़ामालानी में आप सबका स्वागत हैं समाज विकास कार्य में शिक्षा के प्रति महत्वपूर्ण योगदान कमरा बनाने के भामाशाओ कि सूची में अपना योगदान करके पुण्य कमाने का लाभ लिआ है कमरे कि पलेट निर्धारित राशि एक लाख एक हजार एक सौ ग्यारह34 श्रीमान नारणारामजी व कुंभारामजी s oस्वर्गीय श्रीमान गोवर्धनरामजी परमार पुत्र पोकररामजी दिनेशकुमारजी उडासर गुडामालानी रुपये 101111आपका दिया गया दान सदियों तक अमिट रहेगा आपके परिवार का नाम रौशन किया है माली समाज सेवा संस्थान गुडामालानी के समाज बन्धुओं और वरिष्ठ महानुभावो से सहयोग करने की पूर्ण आशा और अभिलाषी है माली समाज सेवा संस्थान गुडामालानी कार्यकारिणी कमेटी

Heeralal Mali

Heeralal Mali

Riddhi Siddhi Telicom, Sindhasawa Chouhan Gudamalani, Barmer, Rajasthan

[ 41 Posts ]

Recent Comments