महाराष्ट्र सरकार द्वारा प्रकाशित महात्मा ज्योतिबा फुले की पुस्तक युगपुरुष

महाराष्ट्र सरकार द्वारा प्रकाशित महात्मा ज्योतिबा फुले की पुस्तक युगपुरुष

"सत्यमेव जयते" महाराष्ट्र सरकार द्वारा प्रकाशित पुस्तक "युगपुरुष" के अंश। सत्यशोधक समाज की स्थापना। 308 6. पुरोहित हाथ मलते रह गए।जोतीराव तथा वर वधू का बाल भी बांका ना कर सके। फिर वह कहने लगे कि, जोतीराव ने अपने नौकर को डरा धमका कर इस प्रकार के विवाह के लिए राजी कर लिया था। लेकिन इसके आगे और कोई ऐसा विवाह का साहस करे तो, उसे ऐसा सबक सिखाया जाएगा कि फिर कोई यह साहस नहीं करेगा। कुछ ही दिनों बाद पुणे के निकट के हडपसर नामक गांव के एक श्री ज्ञानोबा ससाने नामक युवक का विवाह तय हुआ। यह युवक "सत्यशोधक समाज" की पहली सभा में उपस्थित था। जब जोतिराव ने इस युवक का विवाह भी "सत्यशोधक समाज" की पद्धति के अनुसार संपन्न करने का इरादा किया, तो ब्राह्मण पुरोहितों ने ऐसी चाल चली की जो तीराव को मुंह की खानी पड़ी।उन्होंने कुछ घुड़सवारों को हडपसर भेजा और उनके द्वारा ज्ञानोबा को कहलवाया कि, पुरोहित के बिना विवाह धर्म अनुसार नहीं है। गांव के गुंडों ने ज्ञानोबा को ऐसा विवाह न करने की सलाह दी। यदि यह विवाह हुआ तो पूरे गांव को बहिष्कृत करने की धमकी दी गई। निरंतर पढ़ें। नशा हानिकारक है। कोरोना से सावधान।

Mankram  Tak

Mankram Tak

Mahadev Supermarket Kalyan Nagar, Pune Maharashtra411006, Pune, Maharashtra

[ 10 Posts ]

Recent Comments