माली समाज की श्रीमति गीतादेवी बनी बाड़मेर जिले की प्रथम देयदान करने वाली अटल भामाशाह

माली समाज की श्रीमति  गीतादेवी बनी बाड़मेर जिले की प्रथम देयदान करने वाली अटल भामाशाह

माली समाज की राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार प्राप्त श्रीमती गीताजी माली ने अपने पति श्री लक्ष्मणलालजी के जन्म दिवस एवं डॉक्टर्स दिवस के उपलक्ष पर राजकीय मेडिकल कॉलेज बाड़मेर के प्रिंसीपल के समक्ष उपस्थित होकर अपनी देहदान की घोषणा की है समाज को आप पर गर्व है गीताजी ।।पिढीयौ तक जिंदा रहेगी आपकी यह मिसाल साधुवाद आपके जज्बे को सलाम समाज गौरव व महिला शिक्षा की प्रेरणा स्त्रोत समाज की अनूठी पहल आदरणीया को कोटि कोटि नमन एवं पति परमेश्वर को विश्व के नेक कार्य कोटि कोटि धन्यवाद बहुत बहुत धन्यवाद बहिन गीता जी को जिन्होंने अपने जीवन साथी पति देव के जन्म दिवस पर देह दान कि घोषणा कि आपका ह्रदय कि गहराइयों से बहुत बहुत धन्यवाद बहिन गीता जी राजकीय प्राथमिक विद्यालय सरूपानियो कि ढाणी बाद्रा कवास में प्रबोधक पोस्ट पर है और इन्हें राष्ट्रपति अवार्ड भी मिला हुआ है नारी शक्ति का ह्रदय कि गहराइयों से स्वागत अभिनन्दन

Heeralal Mali

Heeralal Mali

Riddhi Siddhi Telicom, Sindhasawa Chouhan Gudamalani, Barmer, Rajasthan

[ 41 Posts ]

Recent Comments