सारथी योजना तीसरी बार भामाशाह बने सौलकी परिवार

सारथी योजना तीसरी बार भामाशाह बने सौलकी परिवार

जय श्री संत शिरोमणि लिखमीदास जी महाराज की जय महात्मा ज्योतिबा फुले की जय (1) समस्त माली समाज सेवा संस्थान गुडामालानी समाज बंधु गणों एवं आदरणीय सभी महानुभावों का सहयोग उसके लिए बहुत-बहुत धन्यवाद (2) सभी भामाशाओं का तहे दिल से बहुत-बहुत धन्यवाद आभार अभिनंदन एवं (3) आजीवन सदस्य बने उनको भी बहुत-बहुत धन्यवाद माली समाज सेवा संस्थान गुडामालानी समस्त आजीवन सदस्य एवं भामाशाह का तहेदिल से अभिनंदन करते हुए ।। निबारामजी s oभोमाराम जी सोलंकी गांव मालियों की ढाणी की तरफ से 12111 रू भामाशाह सारथी योजना में राशि देने की घोषणा की उनको भी बहुत-बहुत धन्यवाद समाज विकास एवं शिक्षा जाग्रति तथा भवन निर्माण हेतु भामाशाह बने उनका एवं समस्त भामाशाह परिवारो को बहुत-बहुत धन्यवाद तहे दिल से हार्दिक आभार महालक्ष्मी जी की कृपा सदैव आपके परिवार पर रहेयही हमारी मनोकामना हैं उनके लिए समूह में हार्दिक अभिनंदन एवं आभार समस्त समाज बंधुओं से नम्र निवेदन है कि हरेक भामाशाह का अभिनंदन आभार वयकत करे सारथी भामाशाह योजना के अनुसार 11000 ऱूपये का 💰 धन देकर आप सारथी भामाशाह बन सकते हैं 👇 जिससे आपका नाम पिताजी नाम सहित भवन के मुख्य हाल की दिवार पर स्वर्ण आखरो मे लिखा जाएगा जी जिसमें जीन भामाशोंहो ने भागीदारी निभाई है उनको तहेदिल से धन्यवादहृदय की गहराई से आभार अभिनंदन एवं जो नए भामाशाह जुड़ रहे हैं उनके लिएस्वागतम माली समाज सेवा संस्थान गुडामालानी कार्यकारिणी कमेटी अध्यक्ष हीरालाल परमार

Heeralal Mali

Heeralal Mali

Riddhi Siddhi Telicom, Sindhasawa Chouhan Gudamalani, Barmer, Rajasthan

[ 41 Posts ]

Recent Comments